0
Please log in or register to like posts.

बीसलपुर। किसान मजदूर संगठन के कार्यकर्ताओं ने मंगलवार दोपहर एक बजे कृषि कानूनों को लेकर तहसील गेट पर केंद्र सरकार के विरोध में प्रदर्शन किया। इसके उपरांत एसडीएम को प्रधानमंत्री के नाम संबोधित ज्ञापन दिया।किसान मजदूर संगठन के कार्यकर्ता मंगलवार को दोपहर एक बजे तहसील परिसर में एकत्र हुए और कृषि कानूनों को लेकर केंद्र सरकार के विरोध में प्रदर्शन किया। करीब एक घंटे तक प्रदर्शन करने के बाद संगठन कार्यकर्ताओं ने एसडीएम राकेश गुप्ता को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम संबोधित ज्ञापन दिया। ज्ञापन में कृषि कानूनों को किसान विरोधी बताया गया है। ज्ञापन में कृषि कानूनों को खत्म कराने की मांग की गई है। प्रदर्शन करने और ज्ञापन देने वालो में संगठन के मंडल संयोजक गुल्लू पहलवान, जिला संयोजक सुभाष चंद्र गंगवार, प्यारेलाल गंगवार, सुरेंद्र कुमार, बिलसंडा ब्लॉक अध्यक्ष ओमकार, रामस्वपरूप, महेंद्रपाल, सीताराम, रामसनेही, दिवाकर, रामपाल, प्रेमपाल, वीरेंद्र पाल सिंह, भगवानदास, समेत काफी किसान शामिल थे।

कृषि कानूनों को लेकर सौंपा ज्ञापन राष्ट्रीय किसान मजदूर संगठन के कार्यकर्ताओं ने पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष की ओर से कृषि कानूनों के संशोधन के संबंध में दिए गए प्रस्ताव को लेकर प्रधानमंत्री को संबोधित ज्ञापन एसडीएम कार्यालय में दिया। ज्ञापन में कृषि कानूनों को लेकर वार्ता ऑनलाइन कराने की मांग की। संगठन के ब्लॉक अध्यक्ष मंजीत सिंह के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने मंगलवार को एसडीएम कार्यालय पहुंचकर प्रधानमंत्री को संबोधित ज्ञापन कार्यालय में एक कर्मचारी को सौंपा। ज्ञापन में कहा गया कि किसान नेता वीएम सिंह कृषि कानूनों के गतिरोध को समाप्त करने को लिखित प्रस्ताव भेजा था। मगर सरकार बार-बार कानूनों में संशोधन करने को तैयार होने का प्रचार कर बिल वापस न करने की तर्क दे रही है। आंदोलन कर रहे किसान कानून वापस किए बगैर वार्ता करने से इनकार कर रहे हैं। गतिरोध को समाप्त करने को राष्ट्रीय किसान मोर्चा ने कानूनों में संशोधित करने के लिए चार प्रस्ताव भेजे और संसद में संशोधन कर किसानों की शंकाओं को दूर करने की अपील की थी। ज्ञापन देने वालों में भाकियू नेता लालू मिश्रा, गुरप्रीत सिंह, गुरदास, अशोक, कुलवंत सिंह, सुच्चा सिंह, जसकरन सिंह, कुलविंदर सिंह, अनन्त अग्रवाल आदि किसान थे।

48 फीसदी गर्भवती महिलाओं में खून की कमी, कैसे सुरक्षित रहे नवजात
राज्यमंत्री को काले झंडे दिखाने के विरोध में दर्ज सभी मुकदमे वापस लिए जाएंगे - एस.एच.ओ, बिलसंडा

Your email address will not be published. Required fields are marked *